पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला को बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तलब किया। चंडीगढ़ के सेक्‍टर-18 स्थित प्रवर्तन ईडी ऑफिस में करीब साढ़े पांच घंटे तक पूछताछ की। अब्दुल्ला से जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) के हुई वित्तीय अनियमितताओं को लेकर यह पूछताछ की गई। हालांकि, ईडी अधिकारियों ने इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी।

फारुख अब्‍दुल्‍ला बुधवार सुबह पौने 12 बजे ईडी ऑफिस पहुंचे। पूछताछ के बाद शाम करीब साढ़े 5 बजे कार्यालय के बाहर निकलकर आए। इस दौरान ईडी ऑफिस के बाहर और आसपास कड़ी सुरक्षा रही। किसी को भी ईडी के कार्यालय परिसर में जाने की इजाजत नहीं थी। यहां तक कि अब्दुल्ला के वकील को भी अंदर नहीं जाने दिया गया।

ईडी की यह जांच 2015 में सीबीआई द्वारा कई करोड़ के घोटाले को दर्ज हुई एफआईआर पर आधारित है। सीबीआई ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ के कोष में अनियमितताओं और गबन के मामले में फारुख अब्दुल्ला और तीन अन्य के खिलाफ श्रीनगर की एक अदालत में कुछ समय पहले आरोप पत्र दाखिल किया था।

जांच एजेंसी ने कहा था कि बीसीसीआई ने 2002 से 2011 के बीच राज्य में क्रिकेट सुविधाओं के विकास के लिए 112 करोड़ रुपए दिए थे, लेकिन आरोपितों ने इस राशि में से 43.69 करोड़ रुपए का गबन कर लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here